rognashak-dharmik-anushthan
  • SKU: KAB1130

Rognashak Dharmik Anushthan [Hindi]

Rs. 170.00 Rs. 200.00
Shipping calculated at checkout.

रोगनाशक धार्मिक अनुष्ठान

किसी भी कार्य को सफलतापूर्वक उसकी परिणीति तक पहुँचाने के लिए उसमे पूरी लगन, क्षमता और निष्ठां  आवश्यक होती है; परन्तु कभी- कभी कार्यो में विघ्न आते देखकर, रोग के असाध्य होते हुए, परिवार में दुर्घटनाओं का कुचक्र इत्यादि से व्यक्ति जब निरुत्साहित हो जाता है तो उसे एक सुदृढ़ सम्बल की आवश्यकता पड़ती है I ऐसी परिस्थिति में 'ईश्वर निष्ठां' से बलशाली कोई भी आस्था न अब तक हुई है और न कभी होगी I

भगवान् महाकाल मृत्यु के मुख से भी बचाने वाले है और पूण: नया जीवन देते है I महामृत्युंजय और भगवान् शिव के प्रति आपकी निष्ठां को प्रबल बनाने में एवं उनकी पूजा - प्रार्थना के लिए समुचित स्रोतों  संग्रह का इस ग्रंन्थ में किया गया है I आपने यह पुस्तक खरीद ली हो तो समझो कि आपके घर से दुर्घटना, रोग, अकारण चिंता व् दुर्विचार भाग गया I

अकाल मृत्यु वो मरे, जो कर्म करे चाण्डाल का I

काल उसका क्या बिगाड़े, जो भक्त है महाकाल का II

 

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP