reiki-chikitsa-bharat-ki-ek-prachin-lupt-vidya
  • SKU: KAB1121

Reiki Chikitsa Bharat ki Ek Prachin Lupt Vidya [Hindi]

Rs. 170.00 Rs. 200.00
Shipping calculated at checkout.

Reki Chikitsa Bharat Ki Ek Prachin Lupt Vidya

'रेकी' अर्थार्त 'प्राण -शक्ति' एक ईश्वरीय शक्ति है जिसे लेकर मनुष्य पैदा हुआ है l जीवन का आधार यही प्राण -शक्ति है जिससे मनुष्य अपने जीवन में सभी कार्यो का सम्पादन करता है l वनस्पति व् अन्य जीव- जन्तु, पशु - पक्षी इसी शक्ति से अनुप्राणित है l इस शक्ति के अभाव में ही मनुष्य को मृत घोषित कर दिया जाता है व् कहा जाता है कि उसके प्राण निकल गए है l यह शक्ति ही जीवन में स्पंदन पैदा करती है l मनुष्य का शरीर, मन, बुद्धि, इन्द्रिया आदि इसी शक्ति से संचालित होकर जीवन भर अपना कार्य करती रहती है l जाने अनजाने यह शक्ति शरीर के सभी अंगो का संचालन कर ही रही है किन्तु इसके ज्ञान के अभाव में तथा मन की स्वछंद वृति के कारण इसके नियमित प्रवाह में बाधा उत्पन्न कर दी जाती है जिससे शरीर में कई प्रकार की बीमारियाँ उतपन्न होती है l

'रेकी' एक ऐसी उपचार पद्धति है जिससे इसके प्रवाह को पुन: नियमित किया जाता है तथा आवश्यकतानुसार अतिरिक्त ऊर्जा का शरीर में प्रवेश कराकर मनुष्य को स्वस्थ, निरोग व् रोग मुक्त किया जा सकता है l

यह शक्ति क्या है ? कहाँ से व् कैसे प्राप्त की जाती है ? शरीर में किस प्रकार कार्य करती है ? इसकी कमी का क्या परिणाम होता है ? इसमें वृद्धि कैसे की जा सकती है ? इस विधि को कैसे सीखा जा सकता है ? आदि का पूर्ण विवेचन इस पुस्तक में विस्तार से सचित्र किया गया है जिसे पढ़कर प्रत्येक व्यक्ति इसका लाभ उठा सकता है l

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP