rahasyamay-vakri-graha
  • SKU: KAB1053

Rahasyamay Vakri Graha [Hindi]

₹ 136.00 ₹ 160.00
Shipping calculated at checkout.
DESCRIPTION

वक्री ग्रह जातक के जीवन पर किस प्रकार का प्रभाव डालेंगे, यह जिज्ञासा का विषय रहा है l  इस पर प्रकाश डालने का एक छोटा सा प्रयास इस पुस्तक के रूप में प्रस्तुत है l वक्री गति से चलने की योग्यता रखने वाले पांच ग्रह बुध , शुक्र , मंगल , गुरु ,व शनि का खगोलीय विश्लेषण विस्तार से किया गया है l ज्योतिष के विभिन्न ग्रंथों से इस विषय पर विद्वानों द्वारा दिए गए श्लोकों का संकलन भी है l यह पुस्तक आपके पूर्व प्रकाशित कार्य मिस्ट्री ऑफ़ रेट्रोग्रेड प्लैनेट्स का हिंदी संस्करण है l इस पुस्तक में आप पाएंगे :

१ वक्री गति का खगोलीय दृष्टिकोण से विवेचन

२ मंद, कुटिल,वक्र और अनुवक्र गतियों का सरल विवेचन और पहचान

३ नक्षत्र और ग्रहों की वक्री गति

४ ज्योतिष ग्रंथों में वक्री ग्रहों का विवरण और फलादेश की विधि

५ वास्तविक कुंडलियों द्वारा वक्री ग्रहों के प्रभाव का आकलन

६ राजनैतिक , सामाजिक कार्यक्षेत्र के लोगों की वास्तविक कुंडलियों का परिक्षण

७ कलाकार , फ़िल्मी हस्तियां, कवि, गायक आदि की कुंडलियां और वक्रत्व का प्रभाव

८ क्रीडाजगत के असल उदाहरणों से वक्रत्व के परिणाम

९ वैवाहिक सम्बन्ध और वक्री ग्रह

१० संतान सुख और वक्री ग्रह

११ विविध व्यक्तित्व और वक्री ग्रह

१२ वक्र गति के फल और परिणाम

RECENTLY VIEWED PRODUCTS

BACK TO TOP