krishan-ki-baansuri-ka-rahasya
  • SKU: KAB1022

Krishan ki Baansuri ka Rahasya [Hindi]

Rs. 38.00 Rs. 45.00
Shipping calculated at checkout.

कृष्ण की बांसुरी का रहस्य

सत्संग का बड़ा प्यारा विषय है 'कृष्ण क़ी बांसुरी में छुपा है सनातन धर्म का राज i ' भगवान् कृष्ण बहुआयामी है i वे अवतार है i वे एक पूर्णावतार है i वे एक सारथी है i उनके हाथों में कभी बांसुरी है i उनके हाथों में कभी चक्र सुदर्शन है i कभी वे अर्जुन को धर्म क़ी, योग क़ी व्याख्या करते है i कभी ये राजनीति के प्रखर प्रस्तोता के रूप में प्रस्तुत होते है i कभी वे गोपियो के साथ रास रचाते है i कभी धर्म और अधर्म क़ी व्याख्या करते हुए दिखाई पड़ते है i इतना बहुआयामी व्यक्तित्व न भगवान् कृष्ण के पहले कभी हुआ और न उनके बाद कभी हुआ i आगे भी इतना बहुआयामी व्यक्तित्व इस धरती पर चलेगा,इस बात क़ी सम्भावना नहीं दिखाई पड़ती i भगवान् कृष्ण के इन बहुआयामी तत्वो का बीज क्या है ?  गीता में जो उन्होंने अर्जुन को समझाया, क्या भगवान् कृष्ण के धर्म का तत्व वहां छुपा है : या रास रचाते हुए जो गोपियो को इशारो से समझा दिया, क्या धर्म का तत्व वहां छिपा है ?

उस बांसुरी को सुनो तो पलटू साहब की तरह तुम्हारा भी मन मगन हो जाता है I मीरा की तरह तुम्हारे भी  पावो में घुंघरू बजने लगते है I गुरु नानक देव जी की तरह तुम भी गीत गा उठते हो, खंजड़ी बज उठती है I वह बांसुरी सदा बज रही थी और आगे भी वह बांसुरी सदा बजती रहेगी I इस बांसुरी के रहस्य को जान लेना ही सनातन धर्म के राज को जान लेना है I

 

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP