Call Us: +91 99581 38227

From 10:00 AM to 7:00 PM (Monday - Saturday)

Durga Saptshati
Sold Out
  • SKU: KAB1227

Durga Saptshati [Hindi]

Rs. 119.00 Rs. 140.00
Shipping calculated at checkout.

 दुर्गा सप्तशती

जगदम्बे की प्रेणना से दुर्गा सप्तशती पर आधारित यह पुस्तक देवी भक्तो के कल्याणार्थ प्रकाशित की गई है l इसमें मेरा कुछ भी नहीं है जो भी कुछ है वह सब जगज्जननी जगदम्बे की कृपा का फल है l हाँ, मै इतना अवश्य कह सकता हु कि सच्ची लग्न व् श्रदा के साथ, शुद्ध वस्त्रधारण कर, शुद्धाचरण पूर्वक एकाग्र चित्त से जगज्जननी के मंत्रो का जाप और ' महाशक्ति महिमा' का पाठ करेगा, उसकी मनोकामना अवश्य सिद्ध होगी l पाठ या जाप करते समय निम्न बातो का अवश्य ध्यान रखे -

१. दुर्गा - सप्तशती - भाषा का पाठ करते समय या तो भगवती दुर्गा का कोई फोटो पवित्र स्थान पर सजाकर रखे अथवा देवी के भवन में माँ की मूर्ति के सामने पाठ करे l

२. पाठ करते समय बीच - बीच में मूर्ति को देखते रहे और फिर वह छवि अपने ह्रदय में धारण करने का अभ्यास करे l कुछ समय बाद माँ की छवि आँखें बन्द करने पर भी अन्तर चक्षुओं से आपको ध्यान करते ही दिखाई पड़ने लगेगी l

३. 'महाशक्ति दुर्गा देव्यै नम: ' इस मन्त्र का जाप पाठ के अन्त में करके गंगा जल का चरणामृत लें l

४. जब मन न लगे उपरोक्त मन्त्र का जाप करने लगे l जब तक पूरा अभ्यास न हो होठ व् जीभ आदि का प्रयोग करे i  कुछ समय बाद यह मन्त्र हर समय अपने आप होने लगे इतना अभ्यास बढ़ा ले i ऐसा होने पर प्रथम तो कोई आपत्ति आएगी ही नहीं, अगर प्रारब्धवशात आई भी तो बहुत कम i ऐसा विश्वास रखना चाहिए i

५. यदि  सामर्थ्य हो तो पाठ समाप्त होने पर हर रोज एक कन्या का पूजन करे अथवा देवी के भवन में अरदास चढ़ा दे i

६. यह 'दुर्गा -सप्तशती -भाषा ' अपने आप में प्राचीन काल से प्रचलित दुर्गा सप्तशती (संस्कृत ) का सरल भाव हिंन्दी भाषा में होने से परमपवित्र मनोकामना  सिद्ध करने वाली है i

७. इस पुस्तक में आदिशक्ति भगवती जगदम्बा के अंसख्य  नाम आये है उनकी महिमा का बखान कर पाना शरीर धारी प्राणी की शक्ति के बाहर की बात है i

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP