vasturatnavali
Sold Out
  • SKU: KAB1231

Vasturatnavali [Hindi]

₹ 45.00 ₹ 50.00
Shipping calculated at checkout.

वराह लल्लादी आचार्यों की कही हुई युक्तियों को देखकर प्राचीनों के वचनों से पवित्र और विचित्र वास्तुरत्नावली को अपनी बुद्धि के अनुसार मै बनाता हूँ l गृहस्थों के हित के लिए तथा ज्योतिषयों के आनंद के लिए प्राचीन ग्रंथकारों के श्लोकों से मै जीवनाथ इस वास्तुरत्नावली की रचना करता हूँ l

सिंह , कन्या , तुला इन राशियों में रवि रहे तो नैऋत्य कोण में वास्तु पूजा करनी चाहिए l वृश्चिक, धनु , मकर  इन राशियों में रवि रहे तो वायव्यकोण में वास्तुपूजा करनी चाहिए l कुम्भ , मीन , मेष इन राशियों में रवि रहे तो ईशान कोण में वास्तुपूजा करनी चाहिए और वृष , मिथुन , कर्क इन राशियों में रवि रहे तो अग्निकोण में वास्तुपूजा करनी चाहिए l

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP