jyotish-me-vivah-evam-prem-ke-yog-hindi
Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi]
Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi]
Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi]
Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi]
  • SKU: KAB3432

Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi]

₹ 449.00 ₹ 499.00
Shipping calculated at checkout.
DESCRIPTION

Jyotish me Vivah Evam Prem ke Yog [Hindi] By

Pandit KB Parsai, DK Parsai

Publisher: Rupa Publications

फलित ज्योतिष सम्बन्धी ज्ञान, जो अब तक केवल कुल-परम्परा अथवा शिष्य परम्परा तक मौखिक रूप में सीमित रहता था,वही ज्ञान अब लिखित रूप में परम्परागत ज्योतिषी पंडित के.बी. (कन्हैयालाल) परसाई एवं उनकी संतान गार्गी व पंडित डी. के. परसाई.की लेखनी से आपके हाथ में उपलब्ध है। 

ज्योतिष में विवाह एवं प्रेम के योग, विवाह अथवा प्रेम के प्रयोजन से स्त्री एवं पुष की कुण्डलियों का मिलान,गण दोष, एवं नाड़ी दोष, मंगली दोष, काल सर्प योग, विष कन्या योग, विवाह भंग योग, अल्प कालिक विवाह योग आदि विवाह सम्बन्धी सारे प्रश्नों का विस्तृत और सरल भाषा में, जैसा विवेचन इस पुस्तक में है वैसा अन्यत्र किसी ग्रन्थ में उपलब्ध नहीं है।

प्रमुख लेखक ज्योतिषी पंडित कन्हैयालाल भवानीशंकर परसाईका जन्म तत्कालीन मध्यभारत के सीतामऊ राज्य की प्राचीन राजधानी लदना में संवत् १९७१ विक्रमी में हुआ। परसाई परिवार कई शताब्दियों से विभिन्न राज्यों में राज-ज्योतिषी पद पर प्रतिष्ठित रहा है। १७वीं और १८वीं शताब्दियों में यह परिवार जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर (मेवाड़), रतलाम और सीतामऊ राज्यों में राज-ज्योतिषी के रूप में प्रतिष्ठित रहा। 

RECENTLY VIEWED PRODUCTS

BACK TO TOP