Call Us: +91 99581 38227

From 10:00 AM to 7:00 PM (Monday - Saturday)

Janamkundali Ho Na Ho (Hindi)
  • SKU: KAB0691

Janamkundali Ho Na Ho (Hindi)

Rs. 72.00 Rs. 80.00
Shipping calculated at checkout.

बहुतों के यहाँ जन्मकुंडली बनवाई ही नहीं जाती l बहुतों की जन्मपत्री माता-पिता की अतत्परता से नहीं बन पाती l बहुतों की असावधानी से खो जाती है l  बहुतों की समय पर मिलती ही नहीं l  तो जिनके पास जनम कुंडली नहीं , वे बिचारे क्या करें ? उनकी भूख कैसे मिटे l वे अदृश्य को कैसे देख पाएं l अन्धकार में उन्हें कोण प्रकाश दे ? ऐसे व्यक्तियों का इस ग्रन्थ से महान उपकार होगा l लेखक के शास्त्रीय प्रौढ़ ज्ञान की द्योत्ना इस ग्रन्थ के प्रत्येक अक्षर कर रहे हैं l साथ ही लेखक को भृगुसंहिता आचार्य की उपाधि के साथ- साथ पूर्वपुरुषों से ज्योतिष का जो मुष्टिज्ञान उत्तराधिकार में मिला है वह सोने में सुगंध है l 

 

RELATED BOOKS

RECENTLY VIEWED BOOKS

BACK TO TOP